श्रावण में कौन सा रुद्राक्ष धारण करना चाहिए ?

Date:

Share post:

श्रावण में कौन सा रुद्राक्ष धारण करना चाहिए ?

श्रावण में कौन सा रुद्राक्ष धारण करना चाहिए ? | श्रावण में किस दिन रुद्राक्ष धारण करना चाहिए | श्रावण में कब रुद्राक्ष धारण करें | श्रावण में रुद्राक्ष धारण करने का शुभ दिन

श्रावण में कौन सा रुद्राक्ष धारण करना चाहिए ?
श्रावण में कौन सा रुद्राक्ष धारण करना चाहिए ?

श्रावण में कौन सा रुद्राक्ष धारण करना चाहिए ?

श्रावण का महीना भगवान शिव यानी कि भोलेनाथ की पूजा आराधना करने तथा रुद्राक्ष धारण करने की दृष्टि से महत्वपूर्ण महीना होता है। इस महीने में अलग-अलग रुद्राक्ष पहनने का विशेष महत्व होता है।

श्रावण के महीने में अध्ययन करने वाले विद्यार्थियों को 5 मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए तथा व्यापार करने वाले जातकों को 7 मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए जबकि तकनीकी क्षेत्र में अपना भाग्य आजमाने वाले लोगों को इस महीने में 12 मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए।

वैसे तो संपूर्ण श्रावण का महीना हर प्रकार के रुद्राक्ष धारण करने के लिए उत्तम होता है इस महीने में जो भी जातक रुद्राक्ष धारण करता है उस जातक को उस रुद्रा की संपूर्ण शक्ति प्राप्त होती है और रुद्राक्ष उस जातक पर अपना प्रबल प्रभाव स्थापित करता है।

यह भी जानें सात मुखी रुद्राक्ष धारण विधि | 7 Mukhi Rudraksha Dharan Vidhi

श्रावण के महीने में मुख्य रूप से सोमवार के दिन रुद्राक्ष धारण करना चाहिए क्योंकि सोमवार का दिन भगवान शिव का प्रिय दिवस होता है और यदि इस दौरान महिना श्रावण का हो तो इससे दोहरे लाभ की प्राप्ति होती है।

श्रावण के महीने में सोमवार के दिन प्रातः काल के समय यानी कि सूर्योदय के समय रुद्राक्ष धारण करना चाहिए इस समय रुद्राक्ष धारण करने से व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है और व्यक्ति का जीवन निर्गुण भक्ति की ओर आकर्षित होता है।

श्रावण के पवित्र मास में रुद्राक्ष धारण करने के लिए शुभ दिन सोमवार का होता है लेकिन यदि किसी कारणवश इस दिन को भी जातक रुद्राक्ष धारण नहीं कर पाता है तो इसके अतिरिक्त गुरुवार तथा शुक्रवार के दिन भी रुद्राक्ष धारण करना शुभ होता है।

यह भी जानें पांच मुखी रुद्राक्ष के फायदे | Panch Mukhi Rudraksha Ke Fayde

श्रावण के महीने में रुद्राक्ष धारण करने के लिए पौराणिक ग्रंथों तथा धार्मिक ग्रंथों के अंदर किसी विशेष दिवस का तो उल्लेख नहीं मिलता है लेकिन कुछ मान्यताओं के अनुसार पूरा श्रावण का महीना ही रुद्राक्ष धारण करने की दृष्टि से उत्तम होता है और इस महीने में रुद्राक्ष धारण करने वाले जातकों की सभी इच्छाएं पूरी होती है।

सोमवार के दिन रुद्राक्ष को धारण करने से सभी प्रकार के कष्ट दूर होते हैं और व्यक्ति का जीवन निरोगी रूप से व्यतीत होता है और उसके जीवन में आने वाली सभी प्रकार की बाधाएं दूर होती है।

भगवान शिव की शक्ति और सामर्थ्य को समर्पित श्रावण के मांस में रुद्राक्ष को धारण करने से विशेष फल और लाभ प्राप्त होता है यह महीना भगवान शिव की कृपा दृष्टि अपने ऊपर बनाने के लिए सबसे उत्तम होता है और यदि इस महीने में तन मन धन से भगवान शिव की आराधना की जाए तो अवश्य ही भगवान शिव की कृपा होती है।

यह भी जानें असली रुद्राक्ष की पहचान कैसे करें | Asli Rudraksh Ki Pehchan Kaise Kare

अनेक प्रकार के रुद्राक्षों को दुग्ध अभिषेक तथा जल अभिषेक करवा करके श्रावण महीने के अंतिम सोमवार के दिन धारण किया जाता है जिसका भी पौराणिक ग्रंथों में उल्लेख मिलता है और इस दिन रुद्राक्ष धारण करने से रुद्राक्ष की शक्ति में वृद्धि होती है और व्यक्ति के आत्मबल तथा आत्म सम्मान में भी वृद्धि होती है।

समाज में मान मर्यादा और गौरव की प्राप्ति करने के लिए भी रुद्राक्ष धारण करना उत्तम होता है यदि कोई भी व्यक्ति समाज में अपनी प्रतिष्ठा बनाना चाहता है तो ऐसे व्यक्ति को गौरी शंकर रुद्राक्ष धारण करना चाहिए क्योंकि इस रुद्राक्ष को धारण करने वाले व्यक्ति के जीवन में प्रतिष्ठा और उन्नति की वृद्धि होती है।

Related articles

नाबालिग गर्लफ्रेंड ने युवक को सऊदी अरब से बुलाकर हत्या की

नाबालिग गर्लफ्रेंड ने युवक को सऊदी अरब से बुलाकर हत्या की छत्तीसगढ़ के कोरबा क्षेत्र से हैरान करने वाली...

जम्मू कश्मीर में दिखे तीन संदिग्ध आतंकी, सेना ने शुरू किया ऑपरेशन

जम्मू कश्मीर में दिखे तीन संदिग्ध आतंकी, सेना ने शुरू किया ऑपरेशन जम्मू कश्मीर के काना चक क्षेत्र से...

अरविंद केजरीवाल को अंतरिम जमानत, लेकिन जेल से बाहर नहीं आ पाएंगे

अरविंद केजरीवाल को अंतरिम जमानत, लेकिन जेल से बाहर नहीं आ पाएंगे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सुप्रीम...

नक्की झील का सामान्य ज्ञान Nakki Jheel GK Hindi 2024

नक्की झील का सामान्य ज्ञान Nakki Jheel GK Hindi 2024 आज के आर्टिकल में हम राजस्थान की प्रसिद्ध नक्की...