Buy now

घर में जूते चप्पल रखने की सही दिशा | ghar mein jute chappal rakhne ki Sahi Disha

घर में जूते चप्पल रखने की सही दिशा | ghar mein jute chappal rakhne ki Sahi Disha

घर में जूते चप्पल रखने की सही दिशा | ghar mein jute chappal rakhne ki Sahi Disha , चप्पल जूतों का स्टैंड किस दिशा में रखना चाहिए , घर में चप्पल जूते किस दिशा में उतारने चाहिए , चप्पल जूते किस दिशा में नहीं उतारने चाहिए

घर में जूते चप्पल रखने की सही दिशा | ghar mein jute chappal rakhne ki Sahi Disha
घर में जूते चप्पल रखने की सही दिशा | ghar mein jute chappal rakhne ki Sahi Disha
घर में जूते चप्पल रखने की सही दिशा | ghar mein jute chappal rakhne ki Sahi Disha

घर में चप्पल जूते रखने के लिए सही दिशा दक्षिण तथा पश्चिम दिशा होती है। इस दिशा में चप्पल जूते रखने से घर में नकारात्मक ऊर्जा नहीं आती है तथा लक्ष्मी का वास नहीं होता है।

चप्पल जूतों का स्टैंड घर में दक्षिण दिशा के अंदर रखना सर्वोत्तम होता है इस दिशा के अंदर चप्पल जूतों का स्टैंड रखने से घर में गृह क्लेश समाप्त होता है तथा मेहमानों की आवाजाही बनी रहती है।

घर में चप्पल जूते कभी भी मुख्य प्रवेश द्वार के आसपास ही उतारना चाहिए चप्पल जूतों को कभी भी घर के अंदर नहीं ले जाना चाहिए क्योंकि वास्तु शास्त्र के अनुसार किसी भी घर में चप्पल जूते रखना अशुभ होता है।

यह भी पढ़ें छत पर पानी की टंकी रखने की सही दिशा | chhat per Pani Ki Tanki rakhne ki Sahi Disha

चप्पल जूतों का स्टैंड हमेशा सुव्यवस्थित तरीके से दक्षिण तथा पश्चिम दिशा में लगाया जाना चाहिए था घर के सभी सदस्यों को स्टैंड के अंदर ही अपने चप्पल जूते उतारना चाहिए।

घर के मुख्य द्वार के सामने की कभी भी बिखरी हुई अवस्था में चप्पल जूते नहीं रखना चाहिए क्योंकि यदि चप्पल जूते घर के मुख्य द्वार के सामने सुव्यवस्थित तरीके से नहीं रखे जाते हैं तो इससे घर में वास्तु दोष उत्पन्न होने का भय बना रहता है।

उत्तर तथा पूर्व दिशा की ओर चप्पल जूते नहीं रखने चाहिए तथा इस दिशा में कभी भी चप्पल जूते रखने का स्टैंड भी नहीं लगाना चाहिए क्योंकि इसे वास्तु शास्त्र के अनुसार अशुभ संकेत माना जाता है तथा इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव बढ़ता है।

यह भी पढ़ें 7 घोड़ों की तस्वीर किस दिशा में लगानी चाहिए | ghodon ki tasvir kis Disha mein lagani chayhie

चप्पल जूते रखने के लिए वास्तु शास्त्र तथा प्राचीन मान्यताओं के आधार पर दक्षिण तथा पश्चिम दिशा को सर्वोत्तम दिशा माना जाता है।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles