Buy now

पांच मुखी रुद्राक्ष धारण विधि | 5 Mukhi Rudraksha Dharan Vidhi

पांच मुखी रुद्राक्ष धारण विधि | 5 Mukhi Rudraksha Dharan Vidhi

जानिए इस आर्टिकल में पांच मुखी रुद्राक्ष धारण विधि | 5 Mukhi Rudraksha Dharan Vidhi तथा पंचमुखी रुद्राक्ष को कैसे धारण करना चाहिए व 5 मुखी रुद्राक्ष का महत्व तथा पांच मुखी रुद्राक्ष की माला से संबंधित जानकारी।

पांच मुखी रुद्राक्ष धारण विधि | 5 Mukhi Rudraksha Dharan Vidhi
पांच मुखी रुद्राक्ष धारण विधि | 5 Mukhi Rudraksha Dharan Vidhi
पांच मुखी रुद्राक्ष धारण विधि | 5 Mukhi Rudraksha Dharan Vidhi

5 मुखी रुद्राक्ष धारण करने की विधि निम्नानुसार है-

  • सभी रूद्राक्षा में सबसे आसान रुद्राक्ष धारण करने की विधि पांच मुखी रुद्राक्ष की होती है। इस रुद्राक्ष को धारण करने के लिए पंचामृत से रुद्राक्ष का अभिषेक करके उसको बाद में गोमूत्र से शुद्ध करना चाहिए।
  • गोमूत्र से 5 मुखी रुद्राक्ष को शुद्ध करने के बाद में भगवान कृष्ण तथा विष्णु की आराधना करनी चाहिए तथा कृष्ण के 108 नामों का जाप करना चाहिए।
  • कृष्ण के 108 नामों का जाप करने के बाद पंचमुखी रुद्राक्ष को लाल धागे अन्यथा चांदी के तार में पिरो कर अपना मुंह पूर्व दिशा की ओर करके इस रुद्राक्ष को अपने गले में डालना चाहिए।
  • यह भी पढ़ें पीला पुखराज पहनने के फायदे , pukhraj stone benefits in hindi
  • रुद्राक्ष को गले में डालने के बाद में भगवान सूर्य देव तथा शनि देव का ध्यान करना चाहिए।
  • तथा प्रतिदिन रुद्राक्ष का जलाभिषेक करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से रुद्राक्ष का प्रभाव बना रहता है।
  • पंचमुखी रुद्राक्ष को धारण करने के बाद कोई भी अनुचित कार्य करने से पूर्व रुद्राक्ष को अपने गले से बाहर निकाल देना चाहिए अन्यथा इसका प्रभाव खत्म हो जाता है।
  • यह भी पढ़ें रुद्राक्ष धारण करने के नियम | Rudraksha Dharan Karne Ke Niyam
  • पंचमुखी रुद्राक्ष को सोमवार के दिन धारण करना अति उत्तम होता है।
पंचमुखी रुद्राक्ष को कैसे धारण करना चाहिए 

पंचमुखी रुद्राक्ष को पंचामृत से शुद्ध करके तथा पूर्व दिशा की ओर मुंह करके व भगवान सूर्य देव का ध्यान करके धारण करना चाहिए।

5 मुखी रुद्राक्ष का महत्व

वास्तु शास्त्र के अनुसार 5 मुखी रुद्राक्ष का विशेष महत्व होता है। यह रुद्राक्ष मुख्य रूप से शिक्षा से जुड़े लोगों तथा विद्यार्थियों को धारण करना चाहिए क्योंकि इस रुद्राक्ष को विद्या की देवी सरस्वती का रुद्राक्ष भी माना जाता है।

यह भी पढ़ें एक मुखी रुद्राक्ष के फायदे | Ek Mukhi Rudraksha Ke Fayde

पांच मुखी रुद्राक्ष की माला

पांच मुखी रुद्राक्ष की माला का लगातार 21 दिन तक जाप करने से विद्यार्थियों को जल्दी सफलता मिलती है तथा 5 मुखी रुद्राक्ष माला का 108 बार जाप करने से सभी प्रकार के मानसिक कष्ट दूर होते हैं।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles