Homeधार्मिकVastu Tips | Ghar me mandir kaisa ho | कैसा होना चाहिये...

Vastu Tips | Ghar me mandir kaisa ho | कैसा होना चाहिये घर में भगवान का पूजा का स्थान मंदिर

Date:

Vastu Tips | Ghar me mandir kaisa ho | कैसा होना चाहिये घर में भगवान का पूजा का स्थान मंदिर

Vastu Tips | Ghar me mandir kaisa ho , कैसा होना चाहिये घर में भगवान का पूजा का स्थान मंदिर , घर में मंदिर किस दिशा में होना चाहिए , वास्तु के अनुसार घर में मंदिर की दिशा। Ghar mein mandir Kaisa hona chahiye

Vastu Tips | Ghar me mandir kaisa ho | कैसा होना चाहिये घर में भगवान का पूजा का स्थान मंदिर
Vastu Tips | Ghar me mandir kaisa ho | कैसा होना चाहिये घर में भगवान का पूजा का स्थान मंदिर

वास्तु शास्त्र के अनुसार ऐसा कहा जाता है कि जिस घर में मंदिर नहीं होता है उस घर को नर्क की संज्ञा दी जाती है क्योंकि जहां पर ईश्वर का निवास नहीं होता है वहां पर कोई भी कार्य शुभ तथा सफल नहीं होता है। इसलिए घर में मंदिर होना अति आवश्यक होता है। और इस लेख में हम आपको बताएंगे कि Ghar me mandir kaisa ho | कैसा होना चाहिये घर में भगवान का पूजा का स्थान मंदिर

Ghar me mandir kaisa ho | कैसा होना चाहिये घर में भगवान का पूजा का स्थान मंदिर

घर में भगवान के पूजा स्थल यानी कि मंदिर से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी निम्न है-

  • घर में बने मंदिर में पूजा करते समय वास्तु शास्त्र के अनुसार पूजा करने वाले जातकों का मुंह है पश्चिम दिशा की ओर होना शुभ तथा श्रेष्ठ माना जाता है।
  • घर में बने मंदिर यानी कि पूजा के स्थान का मुख्य द्वार पूर्व दिशा की ओर रखना वास्तु शास्त्र के अनुसार अति उत्तम होता है।
  • घर में मंदिर जाने की पूजा स्थान ऐसी जगह पर बनाया जाना चाहिए जहां प्रतिदिन सूर्य की किरण मंदिर तक पहुंचे तथा वायु का आगमन भी अच्छी तरह से प्रसारित हो।
  • वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के मंदिर में पूजा अर्चना करने के पश्चात घंटी बजाना चाहिए क्योंकि वास्तु शास्त्र के अनुसार ऐसी मान्यता है कि घर में पूजा अर्चना करने के बाद घंटी बजाने से सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है।
  • यह भी पढ़ें मंदिर / पूजाघर के वास्तु टिप्स , जो बना देंगे आपको धनवान
  • घर में बनी मंदिर जाने की पूजा स्थल पर एक पौधा अवश्य लगाना चाहिए और उसको रात्रि के समय पूजा करने के बाद खींच देना चाहिए ताकि भगवान के विश्राम में किसी भी प्रकार की कोई बाधा ना हो।
  • घर में बने पूजा स्थल यानी कि मंदिर में ज्यादा बड़े आकार की मूर्तियां नहीं रखनी चाहिए क्योंकि यह वास्तु शास्त्र के अनुसार शुभ नहीं होती है इसलिए घर के मंदिर में छोटी मूर्तियां ही रखनी चाहिए। ताकि इनकी प्राण प्रतिष्ठा करवाने की आवश्यकता ना हो।
  • सदैव ध्यान रखना चाहिए कि घर में बने मंदिर जाने की पूजा स्थल के आसपास में कभी भी शौचालय नहीं होना चाहिए क्योंकि पूजा स्थल के पास शौचालय वास्तु शास्त्र के अनुसार किसी भी दृष्टि से शुभ नहीं है।
  • यह भी पढ़ें जानिए बिरला मंदिर के बारे में: Birla Temple
  • घर के मंदिर में पूजा करते समय हमेशा सुगंधित तथा ताजे फूल रखें और गंगाजल भी साथ में रखें इसका छिड़काव से भी मूर्तियों पर करना चाहिए।
  • वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के मंदिर में चमड़े से बनी किसी भी प्रकार की कोई भी वस्तु नहीं रखना चाहिए तथा अपने पूर्वजों की किसी भी प्रकार की कोई भी तस्वीर घर के मंदिर में नहीं लगाए।
  • Twitter Link Gaanvkhabar

Disclaimer: मंदिर यानी की पूजा स्थान से संबंधित यह जानकारी हमारे द्वारा आपके साथ विभिन्न स्त्रोतों के माध्यम से प्राप्त करके साझा की गई है यदि इसमें किसी भी प्रकार की कोई भी त्रुटि होती है तो इसके लिए Gaanvkhabar जिम्मेदार नहीं होगा।

Related stories

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories