Buy now

श्रावण अंतिम सोमवार शिव पूजा विधि

श्रावण अंतिम सोमवार शिव पूजा विधि

श्रावण अंतिम सोमवार शिव पूजा विधि तथा श्रावन के अंतिम सोमवार को शिव की पूजा कैसे करें और श्रावण मास के अंतिम सोमवार को शिव की पूजा करने के फायदे।

श्रावण अंतिम सोमवार शिव पूजा विधि
श्रावण अंतिम सोमवार शिव पूजा विधि

श्रावण अंतिम सोमवार शिव पूजा विधि

वैसे श्रावण मास की हर सोमवार को महादेव जी की पूजा बड़े ही धूमधाम से होती है लेकिन श्रावण मास का पहला सोमवार व अंतिम सोमवार बहुत ही पवित्र सोमवार माने जाते हैं।

श्रवण मास को महादेव जी का मासी माना जाता है श्रावण मास के अंदर किसानों के मुंह पर ज्यादा खुशी होती है क्योंकि बारिश होती है किसानों के खेतों में हरियाली खिलती है श्रवण मास देखने लायक बहुत ही अच्छा नजरिया होता है।

श्रावण मास के अंदर महादेव जी की पूजा महादेव जी का मंदिर या शिवालय पर बहुत ज्यादा भीड़ होती है इसलिए लोग श्रावण मास के अंदर महादेव जी की बहुत ज्यादा पूजा करते हैं।

यह भी जानें श्रावण के सोमवार को शिव जी की पूजा कैसे करें

श्रवण मास को महादेव जी का वास माना जाता है इसलिए लोग महादेव जी की पूजा हर जगह हर शिवाले हरमंदिर पर बड़े ही धूमधाम से करते हैं लेकिन श्रावण मास का पहला सोमवार को अंतिम सोमवार को महादेव जी को पूजा हर जगह हर स्थान पर बड़े ही धूमधाम से की जाती है।

श्रावण मास के अंतिम सोमवार को भगवान शिव की पूजा करने के लिए सुबह जल्दी उठकर अपने मन के अंदर भगवान शिव को याद करें एवं भगवान शिव से प्रार्थना करें ।

श्रावण मास के अंतिम सोमवार की पूजा करने के लिए सुबह जल्दी उठकर स्नान करें एवं स्नान एकदम साफ है और श्रावण मास के अंतिम सोमवार के दिन भगवान शिव के वस्त्र धारण करें।

यह भी जानें सावन के महीने में शिव जी को क्या चढ़ाएं

श्रावण मास के अंतिम सोमवार की पूजा करने के लिए सुबह स्नान करके अपने हाथ में दूध लेकर जहां भगवान शिव का मंदिर हो वहां पर जाकर दूध को चढ़ाएं।

श्रावण मास के अंतिम सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा करने के लिए अपने हाथ में दूध लेकर शिवालयों पर जाकर दूध को शिवालयों पर एवं भगवान महादेव से प्रार्थना करें।

श्रावण मास के अंतिम सोमवार की पूजा करने के लिए दूध चढ़ाकर भगवान महादेव को प्रसाद चढ़ाएं एवं कलश चढ़ाएं उसके बाद भगवान महादेव जी से मंथ मांगे।

यह भी जानें भाद्रपद माह का महत्व , भादो मास का महत्व

श्रावण मास के अंतिम सोमवार की पूजा करने के लिए महादेव जी को अच्छे तरीके से पूजा करें और फिर भगवान महादेव जी को पूरे दिन अपने मन के अंदर बरसाए रखें जिससे भगवान महादेव जी खुश होंगे और आपकी मन्नत पूरी करेंगे।

हमें आप उस लेख के माध्यम से बताने की कोशिश की कि श्रावण मास जो महादेव जी का पवित्र मास माना जाता है इसके अंदर महादेव जी के शिवालय पर बहुत ज्यादा भीड़ होती है तो श्रावण मास के अंतिम सोमवार की पूजा किस तरीके से की जाए जो अच्छी रहती है।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles