Buy now

जीभ फड़कने का मतलब | पुरुष और स्त्री की जीभ का फड़कना | Jeebh ka fadkana

जीभ फड़कने का मतलब | पुरुष और स्त्री की जीभ का फड़कना | Jeebh ka fadkana

जीभ फड़कने का मतलब | पुरुष और स्त्री की जीभ का फड़कना | Jeebh ka fadkana , पुरुष की जीभ का फड़कना , स्त्री की जीभ का फड़कना , जीभ का फड़कना, जीभ फड़कने का अर्थ।

जीभ फड़कने का मतलब | पुरुष और स्त्री की जीभ का फड़कना | Jeebh ka fadkana
जीभ फड़कने का मतलब | पुरुष और स्त्री की जीभ का फड़कना | Jeebh ka fadkana

जीभ फड़कने का मतलब | पुरुष और स्त्री की जीभ का फड़कना | Jeebh ka fadkana

ज्योतिष शास्त्र के अंदर शरीर के विभिन्न अंगों के फड़कने का अलग-अलग मतलब और अर्थ होता है। क्या आप जानते हैं कि जब के फड़कने का मतलब क्या होता है ?

जब किसी भी जातक की जीभ फड़कती है तो इसे एक शुभ संकेत माना जाता है। जीभ फड़कने का मतलब होता है कि जिस व्यक्ति की जीभ फड़कती है वह व्यक्ति अति शीघ्र ही धनवान बन सकता है। जीभ का फड़कना ज्योतिष शास्त्र की दृष्टि से एक सर्वश्रेष्ठ संकेत माना जाता है।

पुरुष की जीभ का फड़कना 

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार पुरुष तथा स्त्री की जीभ दोनों के फड़कने का अलग-अलग मतलब होता है, जब किसी पुरुष की जीभ फड़कती है तो इसका मतलब होता है कि वह पुरुष अब अल्प समय में ही धनवान बनेगा और उसकी सभी प्रकार की समस्या समाप्त होगी।

जिस पुरुष की जीभ फड़कती है उस पुरुष के आसपास में आर्थिक समस्याएं उत्पन्न नहीं होती है तथा वह पुरुष दरिद्रता से मुक्त होता है तथा गरीब लोगों की सहायता करने के लिए तत्पर रहता है।

स्त्री की जीभ का फड़कना

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार स्त्री की जीभ को फड़कना शुभ नहीं माना गया है क्योंकि जिस स्त्री की जब फड़कती है उसे घर में गृह क्लेश होने की संभावनाएं अधिक बढ़ जाती है। स्त्री की जीभ का फड़कना किसी भी दृष्टि से शुभ नहीं होता है। इसे एक अशुभ संकेत माना जाता है।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles