Buy now

हनुमान जयंती कब और क्यों मनाई जाती है ?

हनुमान जयंती कब और क्यों मनाई जाती है ?

हनुमान जयंती कब और क्यों मनाई जाती है , हनुमान जयंती पर हनुमान जी की पूजा कैसे करें , हनुमान जयंती का महत्व , हनुमान जयंती कब है 2023 , Hanuman jayanti kab aur kyon manae jaati hai , Hanuman jayanti kab hai , Hanuman jayanti per Hanuman ji ki puja kaise karen , Hanuman jayanti ka mahatva

हनुमान जयंती कब और क्यों मनाई जाती है ?
हनुमान जयंती कब और क्यों मनाई जाती है ?

हनुमान जयंती कब और क्यों मनाई जाती है

हनुमान जयंती हिंदू कैलेंडर के अनुसार चैत्र शुक्ल पूर्णिमा के दिन है। चैत्र शुक्ल पूर्णिमा के दिन भगवान हनुमान का जन्म हुआ था। इसलिए इस दिन को हनुमान जयंती के रूप में मनाया जाता है।

हनुमान जयंती कब है 2023

हनुमान जयंती 6 अप्रैल (गुरुवार) 2023 को है। इस बार हनुमान जयंती के दिन स्वार्थ सिद्धि योग भी बन रहा है।

 हनुमान जयंती पर हनुमान जी की पूजा कैसे करें

हनुमान जयंती पर हनुमान जी की पूजा हनुमान जी के समक्ष लड्डू, पान,माला तथा चोला चढ़कर करें। इस दिन भगवान हनुमान का जलाभिषेक करना चाहिए तथा इस दिन हनुमान चालीसा का पाठ करने से सभी कष्टों का निवारण होता है।

ये भी पढ़ें- हनुमान जी की पूजा करने का शुभ मुहूर्त 2023

हनुमान जयंती का महत्व

हनुमान जयंती का सनातन धर्म में विशेष महत्व है क्योंकि प्रभु श्रीराम के सबसे प्रिय भक्त भगवान हनुमान को ही माना जाता है। हनुमान जयंती का जितना वैदिक महत्व है उतना ही धार्मिक महत्व है।

हनुमान जी की पूजा विधि

हनुमान जयंती पर हनुमान जी की पूजा करने की विधि निम्न है-

  • सर्वप्रथम भगवान हनुमान का जलाभिषेक करें।
  • तत्पश्चात भगवान हनुमान की प्रतिमा के सिंदूर का लेपन करें।
  • इसके बाद भगवान हनुमान की प्रतिमा के चांदी का वर्क लगाए।
  • तथा इसके बाद भगवान हनुमान को माला अर्पण करें।
  • माला अर्पण करने के बाद में भगवान हनुमान को लड्डू का भोग लगाएं।
  • लड्डू का भोग लगाने के बाद भगवान हनुमान के समक्ष तांबूल भेंट करें।
  • तत्पश्चात हनुमान जी की परिक्रमा करें और अपनी मनोकामनाएं भगवान हनुमान के समक्ष रखें।

हनुमान जयंती पर मेला कहां लगता है ?

राजस्थान के चुरू जिले के अंदर स्थित सालासर बालाजी के मंदिर में प्रतिवर्ष चैत्र शुक्ल पूर्णिमा के दिन भगवान हनुमान का मेला लगता है। इस मेले में देश वदेश से सैकड़ों श्रद्धालु अपनी मनोकामनाएं लेकर भगवान हनुमान के दर पर धोक लगाने पहुंचते हैं।

ये भी पढ़ें- हनुमान जी को प्रसन्न कैसे करें , हनुमान जी को खुश करने के लिए क्या करें

हनुमान जयंती योग

इस बार हनुमान जयंती पर स्वार्थसिध्दि योग बन रहा है इसलिए इस बार इस पर्व का महत्व विशेष है।

Disclaimer: हनुमान जयंती से संबंधित उपरोक्त जानकारी हमारे द्वारा विभिन्न स्त्रोतों के माध्यम से प्राप्त करके आपके साथ साझा की गई है यदि इसमें किसी भी प्रकार की कोई त्रुटि होती है तो इसके लिए Gaanvkhabar जिम्मेदार नहीं होगा।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles