Buy now

हनुमान चालीसा की रचना कब और कैसे हुई ?

हनुमान चालीसा की रचना कब और कैसे हुई ?

हनुमान चालीसा की रचना कब और कैसे हुई ? , हनुमान चालीसा की रचना किसने की ? , हनुमान चालीसा के रचनाकार कौन है , हनुमान चालीसा की रचना कब हुई , हनुमान चालीसा की रचना कैसे हुई Hanuman chalisa ke rachna kab aur kaise Hui 

हनुमान चालीसा की रचना कब और कैसे हुई ?
हनुमान चालीसा की रचना कब और कैसे हुई ?

अनेक धर्म तथा वास्तुशास्त्र के ग्रंथों में हनुमान चालीसा की रचना से संबंधित अलग-अलग जानकारी प्राप्त होती है।

हनुमान चालीसा की रचना गोस्वामी तुलसीदास ने की थी किंतु हनुमान चालीसा के वास्तविक रचनाकार यानी की रचयिता महान संत तुलसीदास माने जाते हैं। ऐसा कहा जाता है कि तुलसीदास ने इसकी रचना जेल में बैठकर की थी।

हनुमान चालीसा की रचना मुगल काल के दौरान हुई थी जिस समय हिंदू धर्म संकट में था उसी समय तुलसीदास ने हिंदू धर्म को बढ़ावा देने के लिए हनुमान चालीसा की रचना की थी।

यह भी पढ़ें हनुमान चालीसा के फायदे | Hanuman chalisa ke fayde

वास्तु शास्त्र के ग्रंथों से ज्ञात होता है कि भगवान हनुमान का जन्म मंगलवार के दिन हुआ था तथा इसी दिन हनुमान चालीसा की रचना भ हुई थी इसलिए इस दिन को भगवान हनुमान का विशेष दिन माना जाता है।

मंगलवार के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करने तथा हनुमान जी के समक्ष परिणाम करने से भक्तों के कष्ट शीघ्र ही दूर होते हैं।

गोस्वामी तुलसीदास ने हनुमान चालीसा की रचना की थी। इसके अलावा गोस्वामी तुलसीदास ने ही हनुमान बाहुक तथा हनुमानाष्टक की भी रचना की थी।

यह भी पढ़ें hanuman ji ki priya samagri | हनुमान को क्यों प्रिय हे ये 10 वस्तुये

अकबर काल के दौरान तुलसीदास तथा अकबर की मध्य हुई एक मुलाक़ात के दौरान जब अकबर ने तुलसीदास से कहा था कि मुझे भी भगवान से मिलना है तो उस दौरान गोस्वामी तुलसीदास ने उन्हें हनुमान चालीसा की रचना लिख कर दी थी और कहा था कि इसे पढ़ने से भगवान से मिलन होता है।

इसी प्राचीन कहानी के अनुसार हनुमान चालीसा की रचना अकबर काल के दौरान हुई थी और इसकी रचना महान संत गोस्वामी तुलसीदास जी के द्वारा की गई थी।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles