HomeVastu tipsघर का मुख्य द्वार कैसा होना चाहिए | ghar ka mukhya darvaja...

घर का मुख्य द्वार कैसा होना चाहिए | ghar ka mukhya darvaja Kaisa hona chahiye

Date:

घर का मुख्य द्वार कैसा होना चाहिए | ghar ka mukhya darvaja Kaisa hona chahiye

जानिए घर का मुख्य द्वार कैसा होना चाहिए | ghar ka mukhya darvaja Kaisa hona chahiye , घर के मुख्य दरवाजे के सामने क्या नहीं होना चाहिए , घर का मुख्य दरवाजा बड़ा होना चाहिए या छोटा ? से संबंधित विस्तृत जानकारी।

घर का मुख्य द्वार कैसा होना चाहिए | ghar ka mukhya darvaja Kaisa hona chahiye
घर का मुख्य द्वार कैसा होना चाहिए | ghar ka mukhya darvaja Kaisa hona chahiye
घर का मुख्य द्वार कैसा होना चाहिए | ghar ka mukhya darvaja Kaisa hona chahiye

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर का मुख्य दरवाजा घर के सभी दरवाजों से बड़ा होना चाहिए तथा इसके सामने किसी भी प्रकार का फालतू का सामान नहीं पड़ा हुआ होना चाहिए।

घर का मुख्य दरवाजा प्राचीन धार्मिक ग्रंथों के अनुसार अंदर की ओर नहीं खोलना चाहिए हमेशा मुख्य द्वार बाहर की तरफ खुलना चाहिए।

वास्तु शास्त्र के आधार पर घर के मुख्य दरवाजे के सामने कभी भी शीशा नहीं होना चाहिए क्योंकि यदि घर के मुख्य दरवाजे के सामने शीशा होता है तो इससे गृह क्लेश में वृद्धि होती है और आर्थिक तंगी उत्पन्न होती है।

यह भी पढ़ें घर में क्या नहीं रखना चाहिए | ghar mein kya Nahin rakhna chahiye

घर के मुख्य दरवाजे के आसपास बाथरूम तथा टॉयलेट नहीं होना चाहिए क्योंकि वास्तु शास्त्र के अनुसार इसे शुभ नहीं माना जाता है इसके कारण घर में अनेक प्रकार की बीमारियां उत्पन्न होने का भय बना रहता है।

घर के मुख्य द्वार के पीछे किसी भी प्रकार की वस्तुएं नहीं लटकाना चाहिए क्योंकि इन्हें वास्तु शास्त्र के अनुसार अशुभ माना जाता है जो कि आर्थिक तंगी की ओर व्यक्ति को धकेलती है।

घर के मुख्य दरवाजे के आसपास वास्तु शास्त्र के अनुसार किसी भी प्रकार के जानवरों की मूर्ति या तस्वीर तथा फव्वारा नहीं होना चाहिए। क्योंकि यदि ऐसा होता है तो घर में नकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है।

यह भी पढ़ें रसोईघर के लिए जरूरी वास्तु उपाय | Important Vastu Tips For Kitchen

घर का मुख्य द्वार बिल्कुल भी आवाज उत्पन्न करने वाला नहीं होना चाहिए साथ ही घर के अन्य द्वार भी आवाज उत्पन्न नहीं करनी चाहिए क्योंकि यदि घर के दरवाजे चरमराहट उत्पन्न करते हैं तो इससे घर में अशांति फैलती है।

घर का मुख्य द्वार हमेशा अन्य दरवाजों की तुलना में बड़ा होना वास्तु शास्त्र के अनुसार शुभ माना जाता है।

Related stories

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories