Buy now

धनतेरस पूजा विधि | Dhanteras Puja Vidhi

धनतेरस पूजा विधि | Dhanteras Puja Vidhi

धनतेरस पूजा विधि | Dhanteras Puja Vidhi , धनतेरस की पूजा विधि , धनतेरस के दिन पूजा करने का तरीका , धनतेरस के दिन पूजा कैसे करें , धनतेरस की पूजा सामग्री ।

धनतेरस पूजा विधि | Dhanteras Puja Vidhi
धनतेरस पूजा विधि | Dhanteras Puja Vidhi

धनतेरस पूजा विधि | Dhanteras Puja Vidhi

धनतेरस के दिन माता लक्ष्मी, भगवान कुबेर तथा भगवान धन्वंतरि की पूजा अर्चना की जाती है। इस दिन इनकी पूजा अर्चना प्रदोष काल के दौरान करनी चाहिए क्योंकि प्रदोष काल के दौरान उनकी पूजा अर्चना करना ज्योतिष शास्त्र के अनुसार श्रेष्ठ माना जाता है।

धनतेरस के दिन पूजा अर्चना शुरू करने से पहले माता लक्ष्मी, भगवान कुबेर तथा धन्वंतरि की प्रतिमा अपने घर के पूजा स्थल पर स्थापित करनी चाहिए और उनका मुंह है उत्तर दिशा की ओर रखना चाहिए।

धनतेरस के दिन पूजा अर्चना करते समय सबसे पहले भगवान कुबेर को 13 दीपक प्रज्वलित करनी चाहिए और अपने मनोकामना भगवान कुबेर के समक्ष रखनी चाहिए। और भगवान कुबेर को तिलक करके उनको अक्षत और इत्र चढ़ाना चाहिए।

यह भी जानें धनतेरस के दिन क्या ख़रीदें | Dhanteras ke din kya kharide

धनतेरस के दिन भगवान कुबेर को सफेद रंग की मिठाइयों का भोग लगा करके धूपबत्ती करनी चाहिए तथा मां लक्ष्मी और भगवान गणेश को पीले रंग की मिठाइयों का भोग लगाना चाहिए।

और भगवान कुबेर की पूजा अर्चना करते समय ओम हिम कुबेराय नमः मंत्र का जाप करना चाहिए। इस मंत्र का जब 21 बार करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से भगवान कुबेर की कृपा दृष्टि शीघ्र ही अपने भक्तों के ऊपर बनती है।

धनतेरस के अवसर पर भगवान धन्वंतरि को खुश करने के लिए धन्वंतरी स्तोत्र का पाठ करना चाहिए तथा भगवान धन्वंतरि का विशेष रूप से ध्यान करना चाहिए और उनकी भक्ति में पूर्ण रूप से लीन हो जाना चाहिए।

यह भी जानें धनतेरस के उपाय | Dhanteras ke upay

धन्वंतरी स्तोत्र का पाठ करने के बाद में अपनी आंखें बंद करके लगभग 15 मिनट तक भगवान धन्वंतरि, माता लक्ष्मी, भगवान कुबेर, भगवान विष्णु तथा भगवान गणेश का ध्यान करना चाहिए।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles