Buy now

आशापुरा माता का जीवन परिचय 2024 | मंदिर | कहानी | इतिहास

आशापुरा माता का जीवन परिचय 2024 | मंदिर | कहानी | इतिहास

आशापुरा माता का जीवन परिचय 2024 | मंदिर | कहानी | इतिहास , आशापुरा माता किसकी कुलदेवी हैं? , आशापुरा माता का मंदिर कहां है ? , आशापुरा माता के मंदिर का निर्माण किसने करवाया था?

आशापुरा माता का जीवन परिचय 2024 | मंदिर | कहानी | इतिहास
आशापुरा माता का जीवन परिचय 2024 | मंदिर | कहानी | इतिहास

आशापुरा माता का जीवन परिचय 2024 | मंदिर | कहानी | इतिहास

आशापुरा माता को मोदला माता तथा आशापुरी माता के नाम से भी जाना जाता है। यह माता जालौर के सोनगरा चौहानों की कुलदेवी है।

आशापुरा माता का मंदिर कहां है ?

आशापुरा माता का प्रमुख मंदिर भडोंच गुजरात में है। जिसका निर्माण चौहान शासक विग्रह राज द्वितीय ने करवाया था।

राजस्थान में आशापुरा माता का मंदिर पाली जिले के नाडौल नामक स्थान पर है। इस मंदिर का निर्माण राव लाखणसी (राव लक्ष्मण) ने करवाया था। इस माता के आशीर्वाद से ही राव लाखणसी ने नाडौल में चौहान वंश की स्थापना की थी।

राजस्थान में आशापुरा माता का एक अन्य मंदिर जालौर में है। जिसमें इस माता की पूजा मोदला माता के नाम से की जाती है। धार्मिक ग्रंथो में इस देवी को बड़े पेट वाली देवी कहा गया है।

राजस्थान में आशापुरा माता का एक और अन्य मंदिर पोकरण नामक स्थान पर है। जिसमें इस माता की पूजा आशापुरी नाम से की जाती है। इस देवी को बिस्सा समाज की कुलदेवी माना जाता है।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles