Buy now

सीढ़ियों की संख्या कितनी होनी चाहिए

सीढ़ियों की संख्या कितनी होनी चाहिए

सीढ़ियों की संख्या कितनी होनी चाहिए , सीढ़ियों की संख्या सम होनी चाहिए या विषम , घर में सीढ़ियों की संख्या सम होनी चाहिए या विषम , घर सीढ़ियों की संख्या कितनी होनी चाहिए , सीढ़ियों की सही दिशा , number of stairs information in hindi , seedhiyon kee sankhya

सीढ़ियों की संख्या कितनी होनी चाहिए , सीढ़ियों की संख्या
सीढ़ियों की संख्या कितनी होनी चाहिए , सीढ़ियों की संख्या

इस लेख में हम आपको बताएंगे सीढ़ियों की संख्या से संबंधित विस्तृत जानकारी तथा सीढ़ियां किस दिशा में होनी चाहिए। क्योंकि घर में सीढ़ियां वास्तु शास्त्र में के अनुसार न हो तो अनेक प्रकार के शारीरिक व मानसिक कष्ट उत्पन्न हो जाते हैं। इसलिए जानिए सीढ़ियों के वास्तु शास्त्र से संबंधित संपूर्ण जानकारी।

सीढ़ियों की संख्या कितनी होनी चाहिए

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में सीढ़ियों की संख्या 18 , 20 , 22 तथा 24 होनी चाहिए। इस संख्या की सीढ़ियां वास्तु शास्त्र के अनुसार शुभ तथा श्रेष्ठ होती है। इसके अलावा घर या मकान में 26 तथा 28 सीढ़ियां होना भी शुभ होता है।

सीढ़ियों की संख्या सम होनी चाहिए या विषम

अनेक धार्मिक ग्रंथों तथा वास्तु शास्त्र के अनुसार सीढ़ियों की संख्या सम (16, 18, 20, 22, 24, 26) होनी चाहिए । क्योंकि सम संख्या में सीढ़ियां होना शुभ होता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार सीढ़ियों की संख्यां विषम नहीं होनी चाहिए क्योंकि विषम संख्या (17, 19, 21, 23, 25, 27) को वास्तुशास्त्र की दृष्टि से अशुभ माना गया है।

शौचालय किस दिशा में बनाना चाहिए 2023 , शौचालय का दरवाजा किस दिशा में होना चाहिए

सीढ़ियों की सही दिशा

जानिए वास्तु शास्त्र के अनुसार सीढ़ियों की सही दिशा-

उत्तर- इस दिशा में सीढ़ियां चढ़ना वास्तु शास्त्र के अनुसार मध्यम सुखदाई माना जाता है।

दक्षिण- इस दिशा में सीढ़ियां चढ़ाना वास्तु शास्त्र के अनुसार शुभ होता है इसलिए इस दिशा में कभी भी घर या मकान की सीढ़ियां नहीं चढ़ानी चाहिए।

पूर्व- यह दिशा भी सीढ़ियां चढ़ाने की दृष्टि से अनुकूल नहीं है इस दिशा को भी वास्तु शास्त्र के अनुसार अशुभ माना जाता है।

पश्चिम- पश्चिम दिशा में वास्तु शास्त्र के अनुसार स्वीट डिअर चढ़ाना सर्वोत्तम माना जाता हैपश्चिम दिशा में वास्तु शास्त्र के अनुसार सीढ़ियां चढ़ाना सर्वोत्तम माना जाता है। इस दिशा में सिर दिया चढ़ाने से घर में धन की वृद्धि होती है तथा समाज में मान सम्मान बढ़ता है।

Darvaja lagane ka shubh muhurt , दरवाजा लगाने का शुभ मुहूर्त 2023

Note- ध्यान रहे  के नीचे सीढ़ियों के नीचे वास्तु शास्त्र के अनुसार पूजा घर , चप्पल जूते, शौचालय तथा लोहे से संबंधित सामग्री नहीं रखनी चाहिए। क्योंकि यह सब वास्तु शास्त्र के अनुसार अशुभ होता है।

Disclaimer – Gaanv Khabar टीम द्वारा लिखी गई जानकारी विभिन्न स्रोतों एवं माध्यमों से प्राप्त की गई है , कृपया उपयोग में लेने से पहले अपने स्तर पर जांच जरूर कर लें, अन्यथा किसी प्रकार के नुकसान के लिए हमारी टीम जिम्मेदार नहीं होगी।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles