Buy now

मिथुन राशि के भाग्योदय उपाय | Mithun Rashi Ke Bhagyoday Upay

मिथुन राशि के भाग्योदय उपाय | Mithun Rashi Ke Bhagyoday Upay

इस आर्टिकल में हम आपको मिथुन राशि के भाग्योदय उपाय | Mithun Rashi Ke Bhagyoday Upay , मिथुन राशि वालों का भाग्य उदय कब होगा , मिथुन राशि वालों का भाग्य उदय कैसे होगा से संबंधित विस्तृत जानकारी।

मिथुन राशि के भाग्योदय उपाय | Mithun Rashi Ke Bhagyoday Upay
मिथुन राशि के भाग्योदय उपाय | Mithun Rashi Ke Bhagyoday Upay
मिथुन राशि के भाग्योदय उपाय | Mithun Rashi Ke Bhagyoday Upay

मिथुन राशि के वालों में अपने करियर को अच्छे मुकाम पर पहुंचाने का एक विशेष गुण होता है। इस राशि के लोगों का स्वभाव कभी अधीर तो कभी चिंता करने वाला तो कभी बेचैन करने वाला होता है।

मिथुन राशि वालों को अपनी बंद किस्मत का ताला खोलने के लिए यानि की भाग्योदय करने के लिए कठोर परिश्रम के साथ भगवान हनुमान की आराधना करनी चाहिए और हो सके तो लगातार 21 मंगलवार तक सुंदरकांड के पाठ का वाचन करना चाहिए।

क्योंकि ऐसा करने से इस राशि के जिन लोगों के दिन खराब चल रहे हैं उनकी दशा ठीक होगी और व्यवसाय तथा शिक्षा क्षेत्र के जातकों को भाग्य उदय के अवसर प्राप्त होंगे।

यह भी पढ़ें राशि अनुसार नौकरी पाने के उपाय | Rashi Anusar Naukari Pane Ke Upay

यदि मिथुन राशि वाले धन की अधिक प्राप्त करना चाहते हैं तो इस राशि के जातकों को मां दुर्गा की आराधना करनी चाहिए क्योंकि मां दुर्गा की आराधना करने से इस राशि के लोगों को धन प्राप्ति के योग प्राप्त हो सकते हैं।

मुख्य रूप से मिथुन राशि के जातकों को आकस्मिक धन प्राप्त करने के लिए भगवान शनि देव की आराधना करनी चाहिए क्योंकि वास्तु शास्त्र में ऐसा कहा जाता है कि मिथुन राशि वालों के धन की चाबी भगवान शनि देव के हाथ में है।

इसलिए इस राशि के लोगों को अपना भाग्योदय करने के लिए शनिवार के दिन एक कटोरी सरसों के तेल में अपना मुंह देख कर शनिदेव के समक्ष अर्पण करना चाहिए।

यह भी पढ़ें राशि अनुसार कर्ज मुक्ति के उपाय | Rashi Anusar Karz Mukti Ke Upay

मिथुन राशि वालों को शनि के प्रभाव से बचने के लिए भगवान हनुमान की आराधना करनी चाहिए क्योंकि ऐसा करने से इनको शनि के प्रभाव से छुटकारा मिलेगा और भाग्योदय के अवसर भी।

 मिथुन राशि वालों का बुध ग्रह कमजोर हो जाता है तो इससे भी इस राशि के जातकों के जीवन में संघर्ष की वृद्धि होती है। इसलिए इससे बचने के लिए कोई भी अच्छे रत्न को धारण करना चाहिए।

यदि आप किसी भी प्रकार का कोई रत्न धारण करने में सक्षम है तो आपको प्रातः काल जल्दी उठकर रोज हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए ऐसा करने से भी आपके सभी कष्ट तथा दोष दूर होंगे और बुध की स्थिति भी मजबूत होगी।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles