Buy now

किस समय देखे गए सपने सच होते हैं

किस समय देखे गए सपने सच होते हैं

किस समय देखे गए सपने सच होते हैं तथा कौन से सपने सच होते हैं और क्या वास्तव में ही सपने सच होते हैं एवं सपने देखने से क्या होता है

किस समय देखे गए सपने सच होते हैं
किस समय देखे गए सपने सच होते हैं

किस समय देखे गए सपने सच होते हैं

प्रातः काल के समय देखे गए सपने सच होते हैं। सुबह यानी कि प्रातः काल के समय 4:00 बजे से लेकर के 7:00 बजे तक के समय के मध्य देखे गए सपने सच होते हैं।

ज्योतिष शास्त्र और सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार यदि कोई भी जातक सुबह 4:00 बजे से लेकर 7:00 के मध्य के समय के दौरान सपना देखा है तो ऐसे जातक के सपने सच होने की संभावना है अधिक और प्रबल होती है।

यह भी जानें सपने में पहला प्यार देखने का मतलब

4:00 से लेकर 7:00 के मध्य के समय के सुंदर सपने देखने वाली जातक की अच्छी तथा बुरे दोनों ही प्रकार के सपने सच होने की संभावनाएं अधिक होती है। यदि इस समय के दौरान आप भी कोई सपना देखते हैं तो उम्मीद कर सकते हैं कि आपका यह सपना अवश्य ही सच होगा।

कौन से सपने सच होते हैं

प्रातः काल के समय तथा ब्रह्म मुहूर्त के समय देखे गए सपने सच होते हैं। इसके अतिरिक्त सूर्योदय के पश्चात देखे जाने वाले सपनों की भी सच होने की अधिक संभावनाएं होती है क्योंकि सनातन धर्म में इस समय कल के दौरान आने वाले सपनों को सच होना बताया गया है।

यह भी जानें सपने में पत्नी को देखने का मतलब

दिन के समय गहरी निंद्रा के अंदर सोए हुए व्यक्ति को यदि कोई सपना आता है तो ऐसे सपने की भी सच होने की संभावनाएं होती है। इसलिए यदि आप भी इस समय कल के दौरान सपना देखते हैं तो यह एक ऐसा सपना होता है जो कभी ना कभी सच के रूप में अवश्य बदलता है।

क्या वास्तव में ही सपने सच होते हैं

सामुद्रिक शास्त्र तथा धार्मिक ग्रंथों के अनुसार एक निश्चित समय काल के दौरान देखे गए सपने सच होते हैं। किंतु सपने वास्तव में ही सच होते हैं इसको लेकर कोई विशेष या प्रमाणिक तथ्य या जानकारी प्राप्त नहीं होती है।

लेकिन सुबह के समय देखे गए सपने वास्तव में ही सच होते हैं और इन सपनों का संबंध व्यक्ति के अंतर्मन की शक्ति तथा बाह्य शक्ति से भी होता है।

Visit Now Twitter Visit Now Twitter

सपने देखने से क्या होता है

यदि व्यक्ति अच्छे सपने देखता है तो इससे व्यक्ति का मानसिक तनाव कम होता है जबकि व्यक्ति बुरे सपने देखता है तो इससे व्यक्ति का मानसिक तनाव और शारीरिक समस्याएं बढ़ती है।

इसलिए यदि आपको अच्छा सपना आता है तो इसे बहुत ही अच्छी बात मानी जाती है लेकिन यदि आपको बुरा सपना आता है तो आपको इसको नजरअंदाज करते हुए अपने कर्तव्य पथ की ओर र निरंतर बढ़ते रहना चाहिए।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles