Buy now

सत्यनारायण व्रत कब किया जाता हैं ? नारायण व्रत के बारे में जानकारी

सत्यनारायण व्रत कब किया जाता हैं ? नारायण व्रत के बारे में जानकारी

नारायण भगवान की पूजा कब की जाती है ? , सत्यनारायण भगवान का व्रत कब किया जाता है ? नारायण भगवान के व्रत करने से क्या फायदे हैं ? , सत्यनारायण भगवान के व्रत के बारे में जानकारी , सत्यनारायण भगवान का व्रत कब किया जाता है ?

हिंदू धर्म की मान्यताओं के मुताबिक श्री सत्यनारायण पूजा भगवान नारायण का आशीर्वाद लेने के लिए की जाती है , भगवान नारायण श्री विष्णु भगवान का ही अवतार माने जाते हैं एवं सत्यनारायण पूजा करने के लिए वैसे तो कोई निश्चित दिन नहीं है लेकिन कहा जाता है कि अगर पूर्णिमा के दिन सत्यनारायण भगवान की पूजा की जाए तो बेहद शुभ है।

पुरानी कथाओं के मुताबिक सत्यनारायण पूजा को पूर्णिमा पूजा एवं श्री नारायण पूजा के नाम से भी जाना जाता हैं , एवं इस दिन भर में प्रार्थना की जाती है , भजन , कीर्तन का आयोजन किया जाता हैं।

सत्यनारायण व्रत करने का 2023 में शुभ मुहूर्त मंगलवार 7 मार्च को है , समय 4:17 अपराहन 6 मार्च श्री सत्यनारायण व्रत प्रारंभ करके 7 मार्च को 6:09 अपराह्न पर समाप्त किया जा सकता है। चंद्रोदय 6: 19 पर होगा।

सुबह जल्दी उठकर जल में गंगा जल मिलाकर स्नान करना चाहिए , की बात सत्यनारायण भगवान की मूर्ति स्थापित करें एवं उसके चारों और केले के पत्ते बांध दें, चौकी पर जल से भरा हुआ कलश रखे एवं देसी घी का दीपक जलाएं , अब सत्यनारायण भगवान की पूजा एवं कथा करें ।

यह भी पढ़ें बहीखाता खरीदने का शुभ मुहूर्त 2023 । Bahi Khata Khridne ka Shubh muhurt

प्रसाद में तुलसी जरूर डालें एवं पूजा के बाद प्रसाद बांट दें , भगवान को भुने हुए आटे में शक्कर मिलाकर प्रसाद के रूप में अर्पित करें।

इसी तरह भगवान श्री सत्यनारायण एवं भगवान श्री कृष्ण की पूजा कर सकते हैं एवं जीवन की विभिन्न बाधाओं से छुटकारा पा सकते हैं भगवान श्री सत्यनारायण की पूजा 1 दिन के लिए की जाती है एवं भगवान विष्णु को खुश करने के लिए यह पूजा की जाती है।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles